जिले में राज्योत्सव का हुआ गरिमामय आयोजन

0
11
 
मुख्य अतिथि श्री विक्रम शाह मंडावी ने राज्योत्सव का किया शुभारंभ
 
विधायक, जनप्रतिनिधियों और कलेक्टर सहित जिला प्रशासन के अधिकारियों के बीच रस्साकशी का हुआा मुकाबला
 
तीरंदाजी, खो-खो, कबड्डी प्रतियोगिता में जिले के खिलाडियों की शिरकत


बीजापुर 01 नवम्बर 2022 -छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना के 22वें वर्षगांठ में हर्षोल्लास एवं गरिमामय आयोजन बीजापुर स्थित मिनी स्टेडियम मंे किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक एवं बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री विक्रम शाह मंडावी ने छत्तीसगढ़ महतारी की पूजा अर्चना एवं दीप प्रज्वलित कर राजगीत के साथ शुभारंभ किया।
राज्योत्सव के पावन अवसर पर जिले के विभिन्न हितग्राहियों को विभागीय योजनाओं के तहत् लाभान्वित करते हुए स्वरोजगार एवं अन्य योजनाओं अंतर्गत चेक वितरण, सब्जी बीज मिनीकीट, मछली जाल, आयुष्मान कार्ड, वनाधिकार पत्र सहित विभिन्न सामग्री का वितरण किया गया। तत्पश्चात् मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि कलेक्टर, एसपी, डीएफओ, सीईओ जिला पंचायत सहित जनप्रतिनिधि एवं अधिकारियों ने विशिष्ट उपलब्धि एवं विकास कार्यो पर आधारित योजनाओं के प्रदर्शनी का अवलोकन किया। जिसमें जिला पंचायत, कृषि, उद्यान, कृषि विज्ञान केन्द्र, मत्स्य विभाग, रेशम, स्वास्थ्य, जनसंपर्क, खेल एवं युवा कल्याण विभाग, आदिम जाति, शिक्षा, राजस्व, पुलिस, यातायात, महिला एवं बाल विकास, वन विभाग, क्रेडा, समाज कल्याण, श्रम, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी द्वारा अपने-अपने  विभागीय योजनाओं का प्रदर्शनी लगाया और हितग्राही मूलक जानकारी एवं दस्तावेज मौके पर बनाकर हितग्राही को लाभान्वित किया।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि श्री विक्रम शाह मंडावी ने बताया कि जिले के विषम परिस्थिति के बावजूद स्वास्थ्य, शिक्षा, कृषि, पेयजल सहित विभिन्न विकास कार्यो से जिले के सुदूर क्षेत्रों में परिवर्तन हुआ है। जहां लोगों की पहुंच नही होती थी उन क्षेत्रो में जनप्रनिधि एवं जिला प्रशासन के अधिकारी पहुंचकर लोगो को योजनाओ से जोड़ रहे है। विगत चार वर्षों के दौरान पहली बार 51 अंदरुनी गांव जो पहंुच विहीन था, वन अधिकार पत्र दिया गया । इसी तरह विकास मूलक कार्यों में राजीव गांधी किसान न्याय योजना बिजली बिल हाफ योजना, भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत् हर वर्ग को लाभान्वित किया जा रहा है।
कलेक्टर श्री राजेन्द्र कुमार कटारा ने जिले के विशिष्ट उपलब्धि को बताते हुए कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, पेजयल, सड़क, बिजली पानी जैसी बुनियादी सुविधाओ से जिले के विकास को गति मिल रही है। बीजापुर जैसे सुदूर क्षेत्रो में वर्तमान में 07 स्वामी आत्मानंद स्कूल संचालित है। वहीं 30 प्रस्तावित है इसी तरह  रनिंग वाटर , स्मार्ट क्लास, सामुदायिक बाड़ी, नरवा विकास, सिंचाई की सुविधा अदंरुनी क्षेत्रों में विकास कार्य संचालित की जा रही है। जिससे शासन और प्रशासन के प्रति अंदरुनी क्षेत्रांे के ग्रामीणों में रुझान बढ़ा है और मुख्य धारा से जुड़ रहे है। राज्योत्सव का माहौल और भी रोचक हो गया जब विधायक और कलेक्टर के बीच रस्साकशी का मुकाबला हुआ। एक तरफ विधायक और जनप्रतिनिधिगण वही दूसरी तरफ कलेक्टर और जिला प्रशासन के अधिकारियों ने रस्साकशी का मुकाबला किया जो पूरे कार्यक्रम में आर्कषण का केन्द्र बिन्दु बना लोगों ने जमकर माहौल का आनंद लिया। राज्योत्सव मैदान में आयोजित विभिन्न खेल प्रतियोगिता तीरंदाजी, खो-खो, कबड़डी का शुभारंभ कर जिले के खिलाडियों को विधायक एवं कलेक्टर ने राज्योत्सव के अवसर बधाई एवं शुभकामनाएं दी वहीं खेल भावना से खेलकर जिले का नाम रौशन करने के लिए प्रोत्साहित भी किया।
कार्यक्रम के इस गरिमामय आयोजन पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्री शंकर कुडियम, कृषक कल्याण बोर्ड एवं जिला पंचायत के सदस्य श्री बंसत राव ताटी और जिला पंचायत एवं बस्तर विकास प्राधिकरण के सदस्य श्रीमती नीना रावतिया उददे ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिले वासियों को राज्योत्सव की शुभकामनाएं एंव संदेश दिया। वहीं लोक कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित होने के लिए लोगों को प्रेरित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री कमलेश कारम, नगरपालिका अध्यक्ष श्री बेनहूर रावतिया, जनपद अध्यक्ष श्रीमती बोधी ताती, पुलिस अधीक्षक श्री आंजनेय वाष्णैय, डीएफओ श्री अशोक पटेल, सीईओ जिला पंचायत श्री रवि कुमार साहू, अपर कलेक्टर श्री पवन कुमार प्रेमी, संयुक्त कलेक्टर श्रीमती सुमनराज सहित नगरपालिका उपाध्यक्ष श्री पुरषोत्तम सल्लूर, जनपद उपाध्यक्ष श्री सोनू पोटाम, वरिष्ठ नागरिक श्री लालूर राठौर सहित जनप्रतिनिधि एवं जिला और पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी, गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here