छत्तीसगढ़ में सात समंदर पार से आई दुल्हन, चर्चा का विषय बनी शादी

0
526
समंदर पार से आई दुल्हन
समंदर पार से आई दुल्हन

राजनांदगांव : जिले में एक शादी को देखने लोगों की भीड़ लग गई. जब भावेश के गले में विदेशी दुल्हन ने वरमाला डाली तो आसपास के लोग देखते रह गए. दरअसल राजनांदगांव जिले में फिलीपींस से दूल्हन आई. यहां भावेश गायकवाड़ और फिलीपींस की जेझल की शादी बड़ी धूमधाम से हुई.

सात समंदर से दुल्हन लाने पर भी परिवारों में खुशी रही. दोनों ही परिवारों का सपोर्ट इन्हें मिला. एक साथ काम करते हुए दोनों का प्रेम परवान चढ़ा और दोनों ने शादी करने का फैसला लिया. वहीं हिंदू रीति रिवाज से राजनांदगांव में दोनों ने शादी की. ये शादी राजनांदगांव में चर्चा का विषय बना हुआ है.

बैंड-बाजे के साथ बारात निकली तो विदेशी दूल्हन खुद को नाचने से नहीं रोक पाई. दूल्हे के साथ बारातियों ने भी खूब डांस किया. भावेश राजनांदगांव के ममता नगर मे रहते हैं. उन्होंने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई राजनांदगांव से की, जिसके बाद मर्चेंट नेवी की तैयारी करने मुंबई चले गए. जहां उन्होंने 9 माह की ट्रेनिंग की, जिसके बाद उन्हें तुर्की में मर्चेंट नेवी की ट्रेनिंग दी गई. इसके बाद उन्हें कतर में कैप्टन की जॉब मिल गई. कतर में ही उनकी मुलाकात जेझल से हुई. धीरे-धीरे मुलाकात मोहब्बत में बदल गई और 5 साल बाद उन्होंने शादी करने का फैसला कर लिया. 14 जनवरी को भावेश और जेझल परिणय सूत्र में बंध गए.

कतर में हुई मुलाकात

नौकरी के दौरान ही भावेश की मुलाकात कतर जेझल से हुई। उनकी मुलाकात धीरे-धीरे मुलाकात मोहब्बत में बदल गई। प्यार के 5 साल बाद दोनों से शादी करने का फैसला किया। इसके बाद 14 जनवरी को भावेश और जेझल ने फैमिली की सहमति से शादी कर ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here