कलेक्टर ने हरी झंडी दिखाकर किया एम्बेड-मलेरिया और डेंगू  प्रचार रथ को रवाना

0
19

जगदलपुर 10 जनवरी 2023/ बस्तर जिले के 150 ग्रामो में जाकर लोगों को मलेरिया और डेंगू से बचाव और उपचार के लिए हल्बी, गोंडी बोली और हिंदी भाषा में करेगा जागरूक बस्तर 09 जनवरी 2023 को बस्तर जिले के कलेक्टर श्री चंदन कुमार एवं बस्तर जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर. के. चतुर्वेदी ने जिला स्वास्थ्य समिति एवं गोदरेज-एम्बेड परियोजना, फैमिली हेल्थ इंडिया जिला-बस्तर, जगदलपुर, छत्तीसगढ़  द्वारा संचालित एम्बेड परियोजना के एम्बेड-मलेरिया और डेंगू  प्रचार रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। एम्बेड परियोजना का संचालन छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर जिले के 159 और कोंडागाँव जिले के 196  गांवों में मलेरिया उन्मूलन और रायपुर की 200 बस्तियों में डेंगू नियंत्रण हेतु गोदरेज और फैमिली हेल्थ इंडिया के द्वारा स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर किया जा रहा हैं , एम्बेड परियोजना के माध्यम से लोगो के व्यवहार में मलेरिया और डेंगू से बचने के उपायों और उपचार के संबंध में जन जागरूकता लाने के साथ, समय पर मलेरिया और डेंगू की जांच सुनिश्चित करवाना, सम्पूर्ण इलाज सुनिश्चित करवाना एवं लोगों के द्वारा मच्छरों से बचने के लिए उपायों को हर घर में उपयोग सुनिश्चित करवाने का प्रयाश लगातार किया जा रहा है। इसी कड़ी में एम्बेड- मलेरिया और डेंगू  प्रचार रथ को आज रवाना किया गया है। जिससे लोग बस्तर जिले के गांवो में जागरूक होंगे और डेंगू और मलेरिया से बचाव और उपचार  के बारे में जानेंगे।  एम्बेड मलेरिया और डेंगू  प्रचार रथ लोगो को गोंडी, हल्बी और हिंदी भाषाओं में माइकिंग के माध्यम से जागरूक करने के लिए बस्तर जिले बस्तानार, दरभा, लोहंडीगुड़ा और तोकापाल ब्लॉक के  150 ग्रामो में जायेगा तथा लोगो को मलेरिया और डेंगू से बचाव, इलाज कब और कहाँ ले, बुखार आने पर 24 घंटे में खून की जांच कराने, मलेरिया का पूरा उपचार लेने, कीटनाशक मच्छरदानी रोज लगाने , घर के आस पास साफ सफाई रखने, हर सात दिन में जमा पानी मे जला आयल या मिट्टी का तेल डालने आदि विषयो पर ऑडियो-माईकिंग के माध्यम से हिंदी,हल्बी और गोंडी भाषा मे लोगो को जागरूक करेगा, साथ ही डेंगू के लक्षण, डेंगू से बचने हेतु उपाय, डेंगू होने पर तुरंत इलाज लेने हेतु लोगो को प्रेरित करने के साथ साथ, आई ई सी-बी सी सी गतिविधियां आयोजित करेगा, प्रचार रथ का उद्देश्य लोगो को मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियो के बारे में जागरूक करना है। इस दौरान क्षेत्रीय समन्वयक रायपुर-एम्बेड प्रोजेक्ट,फैमिली हेल्थ इण्डिया-अवधेश सिंह,एम्बेड परियोजना के बीसीसीएफ ,एम्बेड वालंटियर सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here