Big news National News जहांगीरीपुरी हिंसा के बाद दोनों पक्ष मिलकर निकालेंगे तिरंगा यात्रा … गले मिलकर भुलाए गिले – शिकवे , कहा ऐसी घटनाएं नहीं होंगी दोबारा … लोग बोले भड़काने वाले नेताओं को यहां आने से भगाएंगे …

  • Today36garh

  • हिंसा और तनाव के बाद दिल्ली का जहांगीरपुरी इलाका अब शांति की राह पर है। अमन बहाली में पुलिस के साथ जुटी स्थानीय शांति समिति के अनुसार हिंदू-मुस्लिम समुदाय के लोग रविवार को मिलकर तिरंगा यात्रा निकालेंगे। इससे लोगों में डर का माहौल कम होगा।

यात्रा के दौरान लोगों से शांति की अपील की जाएगी। हिंसा के छह दिन बाद दोनों समुदायों के लोगों ने एक साथ शुक्रवार को इसकी घोषणा की। शाम छह बजे से शुरू होने वाली इस यात्रा के लिए दिल्ली पुलिस से अनुमति मिल गई है। यात्रा के जरिये लोग में मौजूद डर को कम करने का प्रयास किया जाएगा।

इससे पहले शुक्रवार को समिति के प्रतिनिधियों ने सी ब्लॉक इलाके में लोगों से मिलकर शांति और सद्भाव कायम करने की अपील की। इस दौरान दोनों समुदायों के लोग आपस में गले मिले और संकल्प लिया कि ऐसी घटनाएं दोबारा नहीं होनी चाहिए। आपसी रिश्ते को लेकर उन्होंने खुलकर बात की और भविष्य में आने वाले त्योहारों को एक साथ मनाने की घोषणा की।

कुशल चौक पर प्रेस कान्फ्रेंस में स्थानीय लोगों ने कहा कि वे रविवार को भाईचारे का प्रतिनिधित्व करने के लिए इलाके में तिरंगा यात्रा निकालेंगे। इस दौरान मुस्लिम समुदाय के प्रतिनिधि तबरेज खान ने कहा कि हम आपस में सद्भाव से रहना चाहते हैं। वे सुनिश्चित करेंगे कि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों। इस दौरान उन्होंने दिल्ली पुलिस से बल और बैरिकेडिंग कम करने का अनुरोध भी किया।

इस बीच हिंदू समुदाय की ओर से रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष इंद्रमणि तिवारी ने कहा कि यह घटना वास्तव में चिंताजनक है। अफवाहों पर कतई भरोसा नहीं करना चाहिए। यहां पहली बार सांप्रदायिक झड़प हुई है। भविष्य में इस तरह की घटना से बचने के लिए आपस में भाईचारा होना बहुत जरूरी है।

इस दौरान डीसीपी (उत्तर पश्चिम) उषा रंगनानी ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि दोनों समुदाय के बीच शांतिपूर्ण अस्तित्व बना रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि इलाके के एच और जी ब्लॉक में कभी भी दुकानें खोलने से नहीं रोका। इन ब्लॉकों में दुकानें और व्यवसाय खोलने की सुविधा प्रदान करेंगे। ताकि लोग फिर से खुशहाल जीवन व्यतीत कर सकें।

भड़काने वाले नेताओं को भगाएंगे लोग
प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान दोनों ही समुदाय के लोगों ने कहा कि बीते कुछ दिन से राजनेता लगातार बयानबाजी दे रहे हैं और पूरा माहौल में जहर घोलने का काम कर रहे हैं। उन्होंने फैसला लिया है कि भड़काने वाले नेताओं को अब यहां नहीं आने दिया जाएगा। अगर कोई नेता आता है तो उसे स्थानीय लोग मिलकर भगा देंगे। फिर चाहे वह किसी भी राजनीतिक पार्टी का नेता क्यों न हो? जो भी नेता आएंगे उन्हें हाथ जोड़कर कहेंगे कि भाई चुपचाप यहां से चले जाओ। लोगों ने कहा कि पुलिस ने चंद घंटों में स्थिति को संभाला है और हम दोनों धर्मों के लोग पुलिस के अधिकारियों और जवानों को सलाम करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here