Big news खेल – खेल में पिता की बन्दूक से गोली चली … मासूम बेटे के सीने को कर गई पार , मौत …

Today36garh

एजेंसी : लखनऊ के ठाकुरगंज के राइनगर में खेल-खेल में बन्दूक से गोली चल गई जिससे आठ साल के अली जैद की मौत हो गई। गोली उसके सीने के आरपार हो गई थी। गोली लगते ही उसे ट्रामा सेन्टर ले जाया गया था जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पड़ताल में सामने आया कि इस घटना से कुछ घंटे पहले अली जैद के पिता मो. फरीद का पड़ोसी से झगड़ा हो गया जिस पर उन्होंने पड़ोसी को अपनी लाइसेंसी बन्दूक निकाल कर धमकाया था। बाद में इसे कमरे में रख दिया था। झगड़े के बाद पड़ोसी की शिकायत पर पुलिस फरीद को कोतवाली लेकर चली गई थी, इस दौरान बच्चे बन्दूक से खेलने लगे थे और यह हादसा हो गया। इस मामले में गैर इरादतन हत्या और लापरवाही से असलहा रखने का मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने कहा कि फरीद का लाइसेंस निरस्त करने की संस्तुति भी की जायेगी।

राइनगर निवासी मो. फरीद दुबग्गा सब्जी मंडी में आढ़ती है। पुलिस के मुताबिक फरीद का बेटा अली जैद सोमवार शाम को साढ़े चार बजे घर में खेल रहा था। इसी दौरान उसे पिता की बंदूक बिस्तर पर दिखी। वह अपनी बहन के साथ बन्दूक के साथ खेलने लगा। इसी दौरान अचानक उससे गोली चल गई। गोली की आवाज सुनते ही उसकी मां अससिया कमरे में पहुंची। बेटे को खून से लथपथ देखकर वह चीख उठी। वहीं बेटी फहिया भी रोने लगी। पड़ोसियों की मदद से बच्चे को ट्रॉमा सेन्टर ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस घटना की सूचना मिलते ही एडीसीपी चिरंजीव नाथ सिन्हा, एसीपी चौक आईपी सिंह मौके पर पहुंचे।

पड़ोसी से झगड़ा होने पर बन्दूक निकाली थी फरीद ने

पड़ोसियों ने बताया कि फरीद की कई दुकानें है। सोमवार दोपहर इन्हीं दुकान के किराये के विवाद को लेकर पड़ोसी शमीम से कहासुनी हो गई थी। इस झगड़े के बाद शमीम कुछ लोगों को लेकर उसके घर दोपहर में पहुंचा था। शमीम की इस हरकत पर गुस्साये फरीद घर के अंदर से बन्दूक निकाल लाये और उन लोगों को धमकाया। इस पर शमीम ने पुलिस को सूचना दे दी थी। पुलिस के आने से पहले ही फरीद ने पत्नी से बन्दूक को छिपा देने के लिये कहा था। कुछ देर बाद ही वहां पहुंची पुलिस फरीद को थाने लेकर चली गई। यहां शमीम की तहरीर पर पुलिस ने फरीद के खिलाफ मारपीट व धमकी देने का मुकदमा दर्ज कर लिया था।

बिस्तर पर पड़ी मिली बन्दूक
फरीद को थाने ले जाने के बाद ही पत्नी अससिया रिश्तेदारों को इस बारे में बताने लगी और बन्दूक बिस्तर से हटाना भूल गई। इसी दौरान दोनों बच्चे स्कूल से वापस आ गये। इन लोगों को बिस्तर पर बन्दूक दिखी तो उससे खेलने लगे। इसी दौरान बन्दूक से गोली चल गई थी। वहीं पुलिस का कहना है कि झगड़े की सूचना पर जब टीम वहां गई तो फरीद के घर के अंदर भी गई थी लेकिन तब बन्दूक नहीं मिली थी। वहीं पत्नी अससिया का कहना है कि पुलिस अंदर नहीं आयी थी। डीसीपी सोमेन वर्मा का कहना है कि जांच की जा रही है। इस आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here