पूर्व मंत्री केदार कश्यप सहिंत भाजपा के 200 कार्यकर्ता जगदलपुर में गिरफ्तार :

Today36garh

जगदलपुर :  जगदलपुर में कांग्रेस पार्षद कोमल सेना के खिलाफ FIR की मांग को लेकर नगर बंद करवाने निकले भाजपा के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। लगभग 200 से ज्यादा BJP कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर जिले के अलग-अलग थाना में ले जाया गया है।

पूर्व मंत्री केदार कश्यप, किरणदेव, नगर निगम नेता प्रतिपक्ष संजय पांडेय, भाजपा जिलाध्यक्ष रूप सिंह मंडावी और युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष अविनाश श्रीवास्तव समेत कई दिग्गज कार्यकर्ताओं की भी गिरफ्तारी की गई है। थानों में ही भाजपा के कार्यकर्ता नारेबाजी करने लग गए हैं।

दरअसल, मंगलवार की सुबह करीब 8 बजे भाजपा के कार्यकर्ता शहर के अलग-अलग जगह इकट्ठा होना शुरू हुए थे। जब घरों से निकल कर कुछ कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन में शामिल होने जा रहे थे तो उन्हें घर के सामने से ही उठा लिया गया है। पुलिस की करीब 2 से 3 बसों में कार्यकर्ताओं को बिठा कर बड़ाजी, नगरनार , परपा और लोहंडीगुड़ा थाना में लाया गया है। भाजपा नेताओं ने पुलिस की इस कार्रवाई को गुंडाराज बताया है। भाजपाइयों ने कहा कि, सरकार के इशारे में पुलिस कार्रवाई कर रही है। पूर्व मंत्री केदार कश्यप को नगरनार थाना में बिठाया गया है। इनके साथ सैकड़ों कार्यकर्ता भी शामिल हैं। केदार कश्यप ने कहा कि कांग्रेस पार्षद के भ्रष्टाचार के खिलाफ भाजपा पीड़ितों के साथ पिछले 25 दिनों से आंदोलन कर रही है। लेकिन, सरकार के दबाव में प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। बल्कि पीड़ितों को उनके घर से बेघर करने का प्रयास किया जा रहा है।

भाजपा ने आज शांतिपूर्ण तरीके से आज नगर बंद का आह्वान किया था। लेकिन, सरकार के दबाव में आकर पूरे नगर को छावनी के रूप में तब्दील किया है। सरकार आज ऐसे लोगों के साथ में है जो लोग गरीबों पर अत्याचार करते हैं। मुख्यमंत्री के कहने के बाद भी इतने दिनों से केवल जांच चल रही है। FIR दर्ज नहीं हो रही है। यह शर्मनाक है। कानून व्यवस्था पूरी तरीके से ध्वस्थ हो गई है। सरकार पूरी तरफ से तस्करों के साथ में लगी हुई है। यहां पर सभी तरह के माफियों का राज चल रहा है। इसी का भाजपा विरोध करती है। 10 लाख रुपए से ज्यादा की धोखाधड़ी का है आरोप पार्षद कोमल सेना पर PM आवास का लाभ दिलाने के नाम पर 10 लाख रुपए से ज्यादा कि धोखाधड़ी का आरोप लगा है। वार्ड के 40 से ज्यादा लोगों ने PM आवास का लाभ लेने के लिए 25-25 हजार रुपए महिला पार्षद को दिए थे। साल 2020 में वार्ड में घूम-घूम कर लोगों से कहती रही कि एक ऑफर आया है, 25 हजार रुपए दो और PM आवास पाओ। लेकिन यह ऑफर केवल झुग्गी-झोपड़ी में रहने वालों के लिए है। वहीं पार्षद ने अपने ऊपर लगे इस आरोप को निराधार बताया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here