दंतेवाड़ा में मुख्यमंत्री बघेल ने दी इंद्रावती नदी पर पुल की सौगात … पहली बार कोई CM पहुंचा इस गांव में … पुल का नाम भी पूर्व सरपंच के नाम से होगा … नदी पार पंचायत विकास के लिए 10 करोड़ की राशि की घोषणा …

Today36garh

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज दंतेवाड़ा के छिंदनार में विकास कार्यो के लोकार्पण और शिलान्यास कार्यक्रम में की कई महत्वपूर्ण घोषणाएं…

दंतेवाड़ा जिले में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कुआकोण्डा के नवीन भवन के लिए 2.5 करोड़ रुपये की घोषणा ।

  • सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कटेकल्याण के जीर्णोद्धार के लिए 2 करोड़ रुपये की घोषणा ।
  • दंतेश्वरी माता मंदिर में चंदखुरी के कौशल्या माता मंदिर के तर्ज पर भव्य ज्योति कलश कक्ष निर्माण की घोषणा ।
  • मुख्यमंत्री श्री बघेल ने छिंदनार पुल के निर्माण में शहीद हुए प्रधान आरक्षक स्व. श्री लक्ष्मीकांत द्विवेदी को किया नमन ।
  • छिंदनार पुल के निर्माण में सर्वोत्तम बलिदान देने वाले पाहुरनार के पूर्व सरपंच श्री पोसेराम कश्यप के नाम पर पुल के नामकरण की घोषणा ।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंगलवार को दंतेवाड़ा पहुंच गए हैं। वह वहां पर छिंदनार- पाहुरनार घाट पर बहुप्रतीक्षित इंद्रावती नदी पर बने पुल का उद्घाटन करेंगे। इससे पहले सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि इस गांव में पहली बार कोई मुख्यमंत्री आया है। उन्होंने कहा कि यह कोई साधारण पुल नहीं है। यह दंतेवाड़ा-बीजापुर-नारायणपुर को जोड़ने वाला है। यह पुल सिर्फ 10 गांवों को ही जोड़ने वाला नहीं है, बल्कि पूरे बस्तर को अबूझमाड़ से जोड़ने वााला है।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि इसका फायदा न सिर्फ स्कूल जाने वाले बच्चों को मिलेगा। बल्कि बारिश में जान खतरे में डाल डोंगी से नदी पार करने वाले ग्रामीणों को भी मिलेगा। उन्होंने कहा कि डायल-112, एंबुलेंस 108 की सेवा आपके गांव तक पहुंचेगी। यह पुल सही मायने में विकास का द्वार है।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि पुल को बनाने में बहुत सारे जवानों और ग्रामीणों ने अपनी शहदात दी है। मुख्यमंत्री बघेल ने इसके साथ ही पुल का नाम पाहुरनार के पूर्व सरपंच पोसेराम के नाम से करने की घोषणा की। साथ ही उन्होंने कहा कि दंतेश्वर मंदिर का भी रायपुर के कौशल्या मंदिर की तर्ज पर विकास होगा और वहां ज्योति कलश स्थापित किया जाएगा।

पहली बार होगा जब प्रदेश के मुख्यमंत्री इंद्रावती नदी पार अबूझमाड़ के धुर नक्सल प्रभावित गांवों के ग्रामीणों से सीधे रुबरु भी होंगे। छिंदनार में पुल का उद्घाटन करने के बाद मुख्यमंत्री जगदलपुर के लिए रवाना होंगे। जगदलपुर वासियों को भी करोड़ों रुपए के विकास कार्यों की सौगात देंगे।

इंद्रावती नदी पार का पूरा इलाका नक्सलगढ़ है। ऐसे में सुरक्षा को लेकर भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इंद्रावती नदी पर बने जिस पुल का CM उद्घाटन करेंगे इस पुल को बनाने की राह जरा भी आसान नहीं थी। नक्सलियों ने ग्रामीणों को प्रताड़ित किया। उनकी कई बार पिटाई की। कई ग्रामीण गांव छोड़ने मजबूर हुए। पाहुरनार के सरपंच पोसेराम की हत्या तक कर दी। सुरक्षा में तैनात जवानों पर IED ब्लास्ट किया जिससे 1 जवान शहीद भी हुआ। वहीं इस पुल के बनने के बाद अब अबुझमाड़ के ग्रामीण सीधे जिला मुख्यालय से जुड़ गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here