छत्तीसगढ़ : अंबिकापुर के मेडिकल कॉलेज में 4 नवजातों की मौत की वजह क्या ? सरकार ने जांच के लिए भेजी टीम

Today36garh

सरगुजा :छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में पिछले दो दिन के अंदर चार नवजात बच्चों की मौत हो चुकी है। यह मौतें सरकारी मेडिकल कॉलेज में हुई हैं। सरकार ने मौतों की जांच के लिए वरिष्ठ डॉक्टरों की एक टीम रविवार को रायपुर से भेजी है।

मृत नवजातों के मां-बाप ने इस मामले में अस्पताल पर गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाने का आरोप लगाया है। इसके बाद राज्य सरकार ने अधिकारियों के साथ इमरजेंसी मीटिंग बुलाई और जांच के लिए टीम को रवाना कर दिया।

मेडिकल कॉलेज के अधिकारी बोले कोई गड़बड़ी नहीं
छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य सचिव आलोक शुक्ला ने कहा कि वरिष्ठ डॉक्टरों की एक टीम अंबिकापुर रवाना की गई है। यह टीम यहां के सरकारी मेडिकल कॉलेज में हुई बच्चों की मौतों के पीछे की वजह का पता लगाएगी। अगर किसी भी तरह की गड़बड़ी पाई जाती है मामले की बाकायदा जांच होगी। हालांकि अस्पताल से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि इन बच्चों की मौत किसी गड़बड़ी के चलते नहीं हुई है। उनका दावा है कि पैदाइश के वक्त होने वाली कॉम्प्लीकेशंस के चलते इन बच्चों की मौत हुई है। मेडिकल सुप्रीटेंडेंट डॉक्टर लखन सिंह ने हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में कहा कि चारों बच्चों की मौत जन्म के वक्त हुई परेशानी के चलते हुई है। इनमें से दो नवजात जन्म के समय सांस की परेशानी से जूझ रहे थे, वहीं दो अन्य अंडरवेट थे। डॉक्टर लखन सिंह ने बताया कि यह चारों क्षेत्र के अलग-अलग जिला अस्पतालों से रेफर होने के बाद यहां आए थे। इनमें से एक की मौत 15 अक्टूबर को हुई, जबकि तीन अन्य ने 16 अक्टूबर को जान गंवाई।

प्रभारी मंत्री रवाना, स्वास्थ्य मंत्री ने दिल्ली दौरा बीच में छोड़ा
डॉक्टर लखन सिंह ने आगे कहा कि मेडिकल कॉलेज की तीन सदस्यीय टीम भी मामले की जांच करेगी। वहीं रायपुर से एक अन्य टीम भी अंबिकापुर पहुंच रही है। इस बीच शहरी प्रशासन और विकास मंत्री शिवकुमार डहरिया जो कि सरगुजा जिले के प्रभारी मंत्री भी हैं, अधिकारियों के साथ मीटिंग के लिए अंबिकापुर पहुंच रहे हैं।

वहीं प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव अपना दिल्ली दौरा बीच में ही छोड़कर वापस लौट चुके हैं। जनसंपर्क विभाग की तरफ जारी बयान में कहा गया है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर डहरिया अंबिकापुर के लिए रवाना हो चुके हैं। यहां वो डीएम, सीएमएचओ और मेडिकल कॉलेज के सुप्रीडेंटेंड के साथ मीटिंग करेंगे। वहीं स्वास्थ्य मंत्री के स्टाफ द्वारा विज्ञप्ति के मुताबिक सिंह देव ने दिल्ली के अपने सभी कार्यक्रम रद कर दिए हैं और सीधे अंबिकापुर लौट चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here