देश के एकमात्र माता कौशल्या मंदिर का नवीनीकरण कार्य अंतिम चरण में :मंदिर और भगवान श्रीराम की 51 फीट ऊंची नई प्रतिमा का कल मुख्यमंत्री करेंगे लोकार्पण

Today36garh

रायपुर :राजधानी से 25 किलोमीटर दूर स्थित चंद्रखुरी गांव में देश का एकमात्र माता कौशल्या मंदिर के नवीनीकरण का कार्य अंतिम चरण में हैं।

सात अक्टूबर को नवरात्र के मौके पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नए रूप में तैयार किए गए पुराने मंदिर और भगवान श्रीराम की 51 फीट ऊंची नई प्रतिमा का लोकार्पण करेंगे। मंगलवार को पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू ने मंदिर की अंतिम तैयारियों का निरीक्षण किया।

मंदिर परिसर में तीन दिनों तक भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम, भजन संध्या का आयाेजन होगा। इसमें काफी भीड़ उमड़ने की संभावना है, इसे देखते हुए भव्य पंडाल बनाया जा रहा है। लोकार्पण समारोह में अनेक मंत्री, विधायक, पार्षद समेत आसपास के ग्रामीण काफी संख्या में पहुंचेंगे। मंत्री साहू ने का पेयजल, कूलर, पंखा एवं बिजली की उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

मंदिर परिसर में 51 फीट ऊंची भगवान श्रीराम की प्रतिमा को अंतिम रूप दिया जा रहा है। भव्य गेट बनाया गया है। मंदिर के चारों ओर तालाब का सुंदरीकरण किया गया है। मंदिर तक पहुंचने के लिए सड़क के दोनों ओर पेड़ लगाए गए हैं, इससे खूबसूरती और बढ़ गई है। राम वन गमन पर्यटन परिपथ के निर्माण से पर्यटन स्थलों के समीप रहने वाले स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा।

राम वन गमन पर्यटन परिपथ के प्रथम चरण में भगवान श्रीराम के वनवास से जुड़े प्रमुख रूप से सीतामढ़ी-हरचौका, रामगढ़, शिवरीनारायण, तुरतुरिया, चंदखुरी, राजिम, सिहावा, जगदलपुर और रामाराम को भी विकसित किया जा रहा है। लोकार्पण के पहले निरीक्षण के दौरान पर्यटन मंडल के चेयरमेन अटल श्रीवास्तव, पर्यटन विभाग के सचिव अन्बलगन पी. प्रबंध संचालक यशवंत कुमार, कलेक्टर सौरभ कुमार, पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here