अब बिलासपुर कांग्रेस में हुआ दो फाड़ : बिलासपुर विधायक के 6 वर्ष के निष्कासन की मांग के साथ पूरा मामला हुआ भूपेश बघेल vs टीएस सिंह देव

Today36garh
रायपुर : पंकज सिंह मामले को लेकर बिलासुपर में अब कांग्रेस की लड़ाई सीधे तौर पर टीएस सिंहदेव वर्सेस भूपेश बघेल में त​ब्दील हो चुकी है। बाबा के कट्टर सम​र्थक पंकज सिंह के खिलाफ एफआईआर के बाद जो विवाद थाना घेराव से शुरू हुआ वह आज शहर कांग्रेस के विधायक को पार्टी से निकालने के प्रस्ताव के साथ और भी गंभीर हो चुका है।

शहर कांग्रेस कमेटी की ओर से बड़ा फैसला लिया गया है । जिसके साथ बिलासपुर विधायक शैलेश पांडे के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश की गई है। बुधवार को कोतवाली के घेराव और उस दौरान दिए गए बयान को लेकर विधायक शैलेश पांडे को पार्टी से निष्कासित करने की सिफ़ारिश जिला ( शहर ) कांग्रेस कमेटी ने की है । इस तरह का प्रस्ताव गुरुवार को हुई कार्यकारणी की मीटिंग में लिया गया।

कांग्रेस नेता पंकज सिंह के साथ सिम्स में हुए कथित विवाद को लेकर कांग्रेस विधायक शैलेश पांडे की अगुवाई में बुधवार को कोतवाली थाने का घेराव किया गया था। इस दौरान नारेबाजी भी की गई थी। साथ ही संवाददाताओं के सामने शैलेश पांडे ने यह सवाल किया था कि हम हम लोग टीएस सिंहदेव के आदमी हैं. क्या इसलिए चुन-चुन कर पुलिस हमें ठोंक रही है। उन्होंने यह भी कहा था कि ऊपर के निर्देश पर इस तरह की अन्यायपूर्ण कार्रवाई की जा रही है।

उनके इस बयान की व्यापक प्रतिक्रिया हुई थी। गुरुवार को हुई शहर कांग्रेस कमेटी की मीटिंग में यह मुद्दा छाया रहा। लोगों का कहना था कि पंकज सिंह कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं उन्हें लेकर किसी तरह की बात नहीं है। लेकिन कांग्रेश पार्टी के विधायक होने के बावजूद शैलेश पांडे ने जिस तरह इस मामले में बयान दिया है वह आपत्तिजनक है और इस पर कार्यवाही होनी चाहिए । बैठक में शहर कांग्रेस कमेटी की 21 सदस्यीय कार्यकारिणी ने प्रस्ताव पारित किया कि इस मामले में विधायक शैलेश पांडे के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जानी चाहिए । उन्हें पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित किया जाना चाहिए। इस तरह की सिफ़ारिश के साथ प्रस्ताव पारित किया गया है ।

इस बैठक में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, शहर कांग्रेस अध्यक्ष प्रमोद नायक, महापौर रामशरण यादव ,जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण चौहान ,कांग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय, राजेंद्र शुक्ला, नरेंद्र बोलर सहित कार्यकारिणी के सदस्य मौजूद थे। बैठक में कार्यकारिणी के सदस्यों के साथ ही पार्षद और जिला पंचायत सदस्यों को भी आमंत्रित किया गया था। बुधवार को हुए घटनाक्रम के सिलसिले में शहर कांग्रेस की यह बड़ी कार्यवाही मानी जा रही है । यह प्रस्ताव प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेजा जाएगा । उनकी ओर से किस तरह की कार्यवाही की जाती है यह आने वाले समय में ही सामने आ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here