कोदो , कुटकी एवं रागी की उत्पादकता बढ़ाने इंस्टिट्यूट ऑफ मिलेट रिसर्च हैदराबाद और 14 जिलों के साथ एमओयू

Today36garh

रायपुर : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में कोदो , कुटकी एवं रागी की उत्पादकता बढ़ाने इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मिलेट रिसर्च हैदराबाद और 14 जिलों के साथ एमओयू . आई.आई.एम.आर. मिलेट उत्पादन बढ़ाने छत्तीसगढ़ के किसानों को देगा तकनीकी जानकारी , उच्च क्वालिटी के बीज , सीड बैंक की स्थापना में मदद और प्रशिक्षण . मिलेट उत्पादन बढ़ाने के लिए राज्य सरकार ने की उपज की सही कीमत और आदान सहायता देने के साथ समर्थन मूल्य पर खरीदी , प्रोसेसिंग और मार्केटिंग की पहल . मिलेट के प्रसंस्करण और वेल्यूएडिशन से किसानों , महिला समूहों और युवाओं को मिलेगा रोजगार . छत्तीसगढ़ के 20 जिलों के 85 विकासखण्डों में होता है मिलेट्स का उत्पादन . प्रथम चरण में 14 जिलों कांकेर , कोण्डागांव , बस्तर , दंतेवाड़ा , बीजापुर , सुकमा , नारायणपुर , राजनांदगांव , कवर्धा , गौरेला – पेण्ड्रा – मरवाही , बलरामपुर , कोरिया , जशपुर और सूरजपुर जिलों के साथ किया गया एम.ओ.यू. मिलेट मिशन में आगामी 5 वर्षों में खर्च किए जाएंगे 170 करोड 30 लाख रुपए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here