संविदाकर्मियों को मिला राखी का तोहफा:वेतन वृद्धि और नियमतिकरण पर निर्णय

Today36day

रायपुर:छत्तीसगढ़ सरकार ने आंदोलन कर रहे संविदा बिजली कर्मचारियों को रक्षाबंधन का तोहफा दिया है। विद्युत संविदा कर्मचारी संघ ने सरकार से उन्हें नियमित करने का आश्वासन मिलने के बाद अपना आंदोलन खत्म कर दिया है। हालांकि, कुछ कर्मचारी संघ से अलग होकर धरना स्थल पर बैठे ही हुए हैं। ये फैसला एक बैठक के बाद लिया गया है।

 

बैठक में फैसले

1) संविदाकर्मचारियों का वेतन 8 हजार रुपए से बढ़ाकर करीब 14 हजार रुपए हर महीने किया गया है।

2) जो कर्मचारी इस बार की भर्ती में नियमित ज्वॉइनिंग हासिल नहीं कर सकेंगे उनकी संविदा सेवा भी जारी रहेगी।

3) काम के दौरान दुर्घटना की वजह से अपंग हुए संविदा कर्मचारियों को भी भर्ती के जरिए काम देने का प्रयास होगा।

विभाग ने कहा- प्राथमिकता देंगे

विद्युत कंपनी प्रबंधन की तरफ से एक ऑफर दिया गया है। अब विद्युत कंपनी प्रबंधन ने परिचारक (लाइन मैन) के 1500 पदों पर भर्ती विज्ञापन जारी कर दिये गए हैं। इस चयन प्रक्रिया में भाग लेकर संविदाकर्मी नियमित हो सकेंगे। इसमें उन्हें अनुभव का लाभ दिया जाएगा।

छत्तीसगढ़ स्टेट पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के महाप्रबंधक (मानव संसाधन) डीआर साहू ने बताया कि संविदा नियुक्ति आदेश में इस बात का कोई उल्लेख नहीं है कि संविदा कर्मी का नियमितीकरण किया जायेगा । इसलिए ये मांग जायज नहीं है। हम 1500 पदों पर नियमित भर्ती हेतु विज्ञापन जारी कर चुके हैं। इस भर्ती में संविदा कर्मियों को अनुभव का लाभ भी दिया जा रहा है, जिससे उन्हें नियमित होने का अवसर मिलेगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here