सरगुजा राजीव भवन का लोकार्पण: 2 बार काटा गया उद्घाटन रिबन

रायपुर/सरगुजा:15 सालों के इंतजार के बाद छत्तीसगढ़ की सत्ता में आई कांग्रेस फिर गुटबाजी की शिकार होने लगी है । अंबिकापुर में कांग्रेस जिला मुख्यालय ‘ राजीव भवन ‘ के लोकार्पण का फीता पहले स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने काट दिया । इसके बाद वे चले गए । थोड़ी देर बाद खाद्य मंत्री अमरजीत भगत पहुंचे । फीता कटा देख उन्होंने नया मंगवाया और फिर से बांधकर काटा गया । खास बात यह है कि दोनों मंत्री इससे पहले साथ ही अंदर बैठे थे । इस दौरान उनके सामने ही एक – दूसरे के समर्थक नारेबाजी करते रहे ।

इससे पूर्व कांग्रेस के नए भवन के लोकार्पण में रायपुर से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित अन्य लोग शामिल थे । दोपहर करीब 12 बजे CM ने भवन का वर्चुअल लोकार्पण किया । कार्यक्रम भवन के तीसरे फ्लोर पर था । लोकार्पण के बाद टीएस सिंहदेव नीचे उतरे और मुख्य द्वार पर बंधा रिबन काटकर लोकार्पण कर दिया।इसके बाद खाद्य मंत्री श्री भगत नीचे आए और रिबन कटा देखकर समर्थकों ने नया रिबन बांध कर उनसे फिर से रिबन कटवाया।

दिखा मनमुटाव और सम्मान भी

दोनों मंत्रियों के समर्थक उनके सामने ही करते रहे नारेबाजी कार्यक्रम शुरू होने के दौरान टीएस सिंहदेव बाद में पहुंचे । वहां अमरजीत भगत पहले से बैठे थे । सिंहदेव के आते ही उनके समर्थकों ने नारेबाजी शुरू कर दी । यह देखकर भगत के भी समर्थक नारेबाजी करने लगे । दोनों ओर से जिंदाबाद के नारे लगाते रहे । हालांकि भगत आगे बढ़े और सिंहदेव के पैर छुए । फिर सिंहदेव के समर्थकों ने शेर आया के नारे लगाने शुरू कर दिए । कार्यक्रम खत्म होने के बाद दोनों को एक ही जगह कला केंद्र में हो रहे सार्वजनिक कार्यक्रम में जाना था , लेकिन अलग – अलग निकले।

मांदर बजाते थिरकते गिरे भगत

मांदर बजाते बैलेंस बिगड़ने से गिरे खाद्य मंत्री कार्यक्रम के दौरान ही सांस्कृतिक आयोजन भी हो रहे थे । इसमें खाद्य मंत्री अमरजीत भगत भी शामिल हो गए । इस दौरान कलाकारों ने उनके गले में मांदर डाल दी । मंत्री भी सरगुजा लोकगीत पर उसे बजाते हुए नाचने लगे । इस बीच उनका बैलेंस बिगड़ गया । अचानक लड़खड़ा कर मंच पर ही गिर पड़े । यह देखा तत्काल ही कार्यकर्ताओं ने संभाला और गले से मांदर निकाली । इससे पहले सरगुजिया और जशपुरिया लोकगीत पर वे गायन वादन भी करते रहे।

साफ-सफाई

सरगुजा वासियों के लिये बहुप्रतीक्षित राजीव भवन का उद्घाटन के दौरान उठ रहे नारे और समर्थकों के खींच तान के तनाव भरे माहौल में सम्पन्न तो हुआ लेकिन स्थानीय लोगों और राजनैतिक विश्लेषकों के लिये बहुत कुछ मसाले छोड़ गया।प्रदेश की मौजूदा कांग्रेस सरकार के भीतर चल रहे सियासी खींच तान को भी फिर से हवा दे गया,जो जल्द ही तूफान का रूप लेकर उभर सकता है।टी एस सिंग देव ने लोकार्पण पर अमरजीत भगत द्वारा दोबारा रिबन काटने के मुद्दे पर कहा कि उन्हें अजित जोगी शासन के समय की याद ताजा हो गई।वहीं अमरजीत भगत ने भी दोबारा रिबन काटने को लेकर कहा कि समर्थकों की मांग और उत्साह की भरपाई के अलावा कुछ भी नही था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here