छत्तीसगढ़:टी एस सिंह देव ने ढाई-ढाई साल रोटेशन फार्मूले पर तोड़ी चुप्पी..

Today36garh:

रायपुर/ब्यूरो: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की मौजूदा सरकार लगातार चर्चा का विषय बना हुआ है,पंजाब में हुई राजनैतिक उठापटक के बाद से 36गढ़  की भूपेश बघेल सरकार पर ढाई-ढाई साल पर रोटेशन फार्मूले की तलवार लटकती नज़र आ रही है ।जिसके तहत राज्य में मुख्यमंत्री बदलने की चर्चाएं तेज़ हैं।

“इस बीच राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंह देव दिल्ली दौरे पर हैं. जहां उन्होंने एक पत्र वार्ता में अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि ढाई ढाई साल जैसा कोई फार्मूला लिखित में नही है किंतु मुझे उम्मीद है कि नेतृत्व उचित फैसला करेगा. उन्होंने कहा कि कर्नाटक और उत्तराखंड में कोई फार्मूला नहीं था लेकिन वहां मुख्यमंत्री बदले गए! “”

तो पद छोड़ दूंगा,,,

बता दें कि हाल हीं में दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद राज्य में मुख्यमंत्री बदलने की चर्चाओ को खारिज करते हुए मुख्यमंत्री भपेश बघेल ने कहा था कि राज्य में तीन-चौथाई बहुमत की सरकार चल रही है लिहाज़ा रोटेशन जैसे किसी समझौते का सवाल हीं नहीं पैदा होता. हालांकि मुख्यमंत्री बघेल ने साथ ही ये भी कहा था कि नेतृत्व ने जब उन्हें शपथ लेने को कहा था तब उन्होंने शपथ लिया था, उसी तरह अगर नेतृत्व उन्हें इस्तीफा देने को कहेगा तो पद छोड़ देंगे.

कही मन की बात:

टी एस सिंह देव ने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश में भी तो योगी आदित्यनाथ को बदलने पर मंथन हुआ था. आगे पार्टी आलाकमान उन्हें जो भी ज़िम्मेदारी देता है वो उसके लिए हमेशा तैयार हैं.

अब क्या है रणनीति,,?

दरअसल जब से सूबे में कांग्रेस की सरकार बनी है तभी से पार्टी में चल रहे दो ध्रुवीय खींचतान से सभी वाकिफ़ हैं।और मौजूदा मुख्यमंन्त्री भुपेश बघेल के अब ढाई साल पूरे होने को है,जिससे ढाई ढाई साल के फार्मूले ओर अटकलें जोरों पर है।और ढाई साल से आस में बैठे टी एस बाबा के समर्थक पार्टी आलाकमान पर दबाव बना कर अपना पक्ष मजबूती के साथ रखना चाहती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here