राज्य में कानून व्यवस्था और आदिवासी दोनों असुरक्षित – कोमल हुपेंडी

0
15

रायपुर । आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेण्डी ने पत्रकार वार्ता कर नारायणपुर में हुए हमलों की निंदा की है।
कोमल हुपेण्डी ने कहा कि प्रदेश की भुपेश बघेल सरकार में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है।प्रदेश में आदिवासियों सहित आम लोग ही नहीं बल्कि पुलिस अधीक्षक तक सुरक्षित नहीं हैं,जिससे प्रदेश की लचर कानून व्यवस्था का अंदाजा लगाया जा सकता है। नारायणपुर में कांग्रेस और भाजपा मिलकर धर्म के नाम पर आदिवासियों में फूट डाल रहे हैं।नारायणपुर की घटना के लिए दोनों ही राजनीतिक पार्टियां जिम्मेदार हैं जो भोले-भाले आदिवासियों को सामने रखकर धार्मिक उन्माद फैलाने का काम कर रहे हैं।कोमल हुपेण्डी ने आदिवासी समाज के लोगों से अपील की है कि समाज किसी के बहकावे में न आकर आपसी प्रेम और भाईचारा के साथ रहें।मोहब्बत के रास्ते नारायणपुर में शान्ति व्यवस्था कायम करने की दिशा में आगे बढ़ें।
पूर्व जिलाध्यक्ष नरेंद्र नाग ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार है,लेकिन नारायणपुर का कॉंग्रेसी विधायक चंदन कश्यप शान्ति व्यवस्था बहाल करवाने के बजाय कुम्भकर्णी नींद में सोया हुआ है।आदिवासियों व पुलिस पर हुए हमलों से विधायक को कोई वास्ता नहीं है।इस घटना के बाद चंदन कश्यप पूरी तरह गैरजिम्मेदार विधायक साबित हुए हैं।
नरेंद्र नाग ने आगे कहा पूर्व मंत्री केदार कश्यप भाजपा के पन्द्रह साल के कार्यकाल में आदिवासियों के हित में कोई काम नहीं किए,आज अपनी राजनीति चमकाने के लिए घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं जिसे क्षेत्र की जनता अच्छी तरह जानती है।
नरेंद्र नाग ने जाति-धर्म की राजनीति और भाजपा कांग्रेस के षड्यंत्रों पर रोक लगाते हुए शांति बहाली की मांग की है।
इस अवसर पर आम आदमी पार्टी यूथ विंग के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष सन्तराम सलाम,राजू सलाम,मनीष राठौर,जसप्रीत सिंह,बारसू हुपेण्डी आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here