छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस पर जिला मुख्यालयों में एक नवंबर को होगा एक दिवसीय कार्यक्रम

0
7

रायपुर. विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस के अवसर पर जिला मुख्यालयों में एक दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन होगा. जिला मुख्यालयों में एक नवंबर को एक दिवसीय कार्यक्रम के आयोजन के संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा सभी जिला कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिए हैं.

जारी निर्देश में कहा गया है कि जिला मुख्यालयों में एक दिवसीय कार्यक्रम आयोजन के संबंध में कार्यक्रम स्थल पर विभिन्न विकास विभाग की विभागीय प्रदर्शनी का आयोजन किया जाए. विभिन्न विभागों में विशेष उपलब्धियों को विशेष रूप से प्रदर्शित किया जाए. कार्यक्रम स्थल पर राज्य शासन के विभिन्न विभागों की महत्वपूर्ण योजनाओं एवं सफल परियोजनाओं का प्रदर्शन किया जाए. विगत वर्षों की उपलब्धियों को भी प्रदर्शित किया जाए.

जिला स्तर पर स्थानीय कलाकारों के द्वारा एक नवंबर को एक दिवसीय सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाए. सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन शालीन होना चाहिए. जिला मुख्यालयों के समस्त शासकीय विभागों में एक नवंबर को रात्रि को रोशनी की जाए. शासन के कल्याणकारी योजनाओं से हितग्राहियों कोे कार्यक्रम में लाभान्वित किया जाए.

जिला मुख्यालयों में 01 नवंबर को राज्योत्सव का रंगारंग आयोजन

छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस 2022 के अवसर पर 1 नवम्बर को जिला मुख्यालयों में होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिए मुख्य अतिथि निर्धारित कर दिए गए हैं. राज्य स्थापना दिवस का राज्य स्तरीय कार्यक्रम रायपुर के साईंस कॉलेज मैदान में 01 से 03 नवम्बर तक आयोजित किया जाएगा. इस दौरान राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव और राज्य अलंकरण समारोह आयोजित होगा.

राज्य स्थापना दिवस पर जिला मुख्यालय महासमंुद में आयोजित किए जाने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम में संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चंद्राकर मुख्य अतिथि होंगे. इसी प्रकार जिला मुख्यालय धमतरी के कार्यक्रम में संसदीय सचिव गुरूदयाल सिंह बंजारे, जिला मुख्यालय बलौदाबाजार-भाटापारा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव शकुंतला साहू, जिला मुख्यालय गरियाबंद के कार्यक्रम में विधायक अमितेष शुक्ल, जिला मुख्यालय दुर्ग के कार्यक्रम में विधायक कुलदीप जुनेजा, जिला मुख्यालय राजनांदगांव के कार्यक्रम में विधायक अरूण वोरा, जिला मुख्यालय कबीरधाम के कार्यक्रम में विधायक ममता चंद्राकर, जिला मुख्यालय बालोद के कार्यक्रम में विधायक संगीता सिन्हा, जिला मुख्यालय बेमेतरा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, जिला मुख्यालय बिलासपुर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव डॉ.रश्मि आशीष सिंह, जिला मुख्यालय कोरबा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव द्वारिकाधीश यादव, जिला मुख्यालय रायगढ़ के कार्यक्रम में विधायक लालजीत सिंह राठिया, जिला मुख्यालय मुंगेली के कार्यक्रम में संसदीय सचिव कुंवर सिंह निषाद, जिला मुख्यालय जांजगीर-चांपा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव चंद्रदेव प्रसाद राय, जिला मुख्यालय गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही के कार्यक्रम में विधायक डॉ. के.के.ध्रुव और सरगुजा जिला मुख्यालय अम्बिकापुर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव पारसनाथ राजवाड़े मुख्य अतिथि होंगे.

इसी तरह जिला मुख्यालय कोरिया, बैकुण्ठपुर के कार्यक्रम में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष गुलाब कमरो, जिला मुख्यालय जशपुर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव यू.डी.मिंज, जिला मुख्यालय सूरजपुर के कार्यक्रम में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष बृहस्पत सिंह, जिला मुख्यालय बलरामपुर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव चिंतामणी महाराज, जिला मुख्यालय बस्तर (जगदलपुर) के कार्यक्रम में बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, जिला मुख्यालय कांकेर के कार्यक्रम में संसदीय सचिव शिशुपाल सोरी, जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा के कार्यक्रम में विधायक देवती कर्मा, जिला मुख्यालय सुकमा के कार्यक्रम में संसदीय सचिव रेखचंद जैन, जिला मुख्यालय कोण्डागांव के कार्यक्रम में बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष संतराम नेताम, जिला मुख्यालय नारायणपुर के कार्यक्रम में विधायक चन्दन कश्यप, जिला मुख्यालय बीजापुर के कार्यक्रम में विधायक विक्रम मण्डावी, जिला मुख्यालय मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ चौकी के कार्यक्रम में संसदीय सचिव इन्द्रशाह मण्डावी, जिला मुख्यालय खैरागढ़-छुईखदान-गण्डई के कार्यक्रम में विधायक यशोदा वर्मा, जिला मुख्यालय सारंगढ़-बिलाईगढ़ के कार्यक्रम में विधायक श्रीमती उत्तरी जांगड़े, जिला मुख्यालय मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर के कार्यक्रम में विधायक विनय जायसवाल और जिला मुख्यालय सक्ती के कार्यक्रम में विधायक रामकुमार यादव मुख्य अतिथि होंगे.

राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर 01 नवम्बर को शासकीय भवनों में रोशनी की जाएगी
छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस 01 नवम्बर को रात्रि में प्रदेश के सभी शासकीय भवनों पर रोशनी की जाएगी. इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा समस्त विभाग प्रमुखों, विभागाध्यक्षों, संभागायुक्तों और कलेक्टरों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here