कोरबा: ग्रामीणों ने हाथी शावक को मारा, जंगली हाथी ने ली ग्रामीण और मवेशियों की जान

0
7

कोरबा. छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में ग्रामीणों ने कथित तौर पर हाथी के एक शावक को मारकर जमीन में दफना दिया. वहीं जंगली हाथी ने ग्रामीण और तीन मवेशियों की जान ले ली. वन विभाग के अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. अधिकारियों ने बताया कि जिले के कटघोरा वनमंडल के बनिया गांव में ग्रामीणों ने कथित तौर पर हाथी शावक की हत्या कर शव को खेत में दफना दिया.

कटघोरा वन मंडल की अधिकारी प्रेमलता यादव ने बताया कि विभाग को जानकारी मिली थी कि बनिया गांव में ग्रामीणों ने हाथी शावक (एक वर्ष) को मारकर शव को गाड़ दिया है. घटना की सूचना मिलने के बाद घटनास्थल के लिए दल को रवाना किया गया है और बृहस्पतिवार को शव बरामद किया गया.

यादव ने बताया कि ग्रामीणों ने शव को दफनाने के बाद उसके उपर धान रोप दिया था. शव को बाहर निकालकर उसका पोस्टमार्टम कराया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी. अधिकारी ने बताया कि जिस ग्रामीण के खेत में हाथी के शावक को दफनाया गया था उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. वन विभाग ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि घटना के बाद एक जंगली हाथी ने जटगा वन परिक्षेत्र के अंतर्गत देवमट्टी गांव में पितांबर सिंह (50) तथा तीन मवेशियों को मार डाला है. अधिकारियों ने बताया कि मृतक के परिवार को तात्कालिक सहायता राशि 25 हजार रूपए दी गई है और शेष 5.75 लाख रूपए सभी औपचारिकता पूर्ण होने पर दी जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here