हमारी सरकार लोगों के जेब में पैसा डालने का काम कर रही: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

0
8

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज अपने भेंट-मुलाकात अभियान के तहत नवगठित सक्ती जिला के जैजैपुर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम काशीगढ़ पहुंचे. स्थानीय ग्रामीणों एवं जनप्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री का शाल भेंट कर, फूल माला और धान की बाली पहना कर उत्साहपूर्वक उनका आत्मीय स्वागत किया. मुख्यमंत्री बघेल भेंट-मुलाकात के पूर्व ग्राम कांशीगढ़ में स्थित मां चंद्रहासिनी देवी मंदिर दर्शन के लिए पहुंचे. उन्होंने मां चंद्रहासिनी की पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख समृद्धि और खुशहाली की कामना की और मंदिर परिसर में आम के पौधे का रोपण किया. इस अवसर पर राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, विधायक रामकुमार यादव, मुख्यमंत्री के सचिव डॉ. एस. भारतीदासन, जनप्रतिनिधि और अधिकारीगण उपस्थित थे.

मुख्यमंत्री बघेल ने भेंट-मुलाकात के दौरान कहा कि वे शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं के जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन का जायजा लेने के लिए जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ यहां आए हैं. उन्होंने बताया कि हमने सरकार बनते ही सबसे पहले किसानों का अल्पकालीन ऋण माफी का फैसला लिया. साथ ही राजीव गांधी किसान न्याय योजना की शुरुआत भी की. योजना के तहत अब तक दो किश्तों का भुगतान किया जा चुका है और तीसरी किश्त दीवाली के पहले 17 तारीख को किसानों के खातों में हस्तांतरित कर दी जाएगी. जिससे त्यौहार मनाने और धान की कटाई के लिए पैसों की दिक्कत नहीं होगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार लोगों के जेब में पैसा डालने का काम कर रही है. सक्ती नवगठित जिला है, यहां काफी काम किया जाना है. उन्होंने कहा कि महिला स्व-सहायता समूह की सदस्यों से जानकारी मिली कि वे और भी अन्य गतिविधियों से जुड़ना चाहती हैं. महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए सरकार ने ग्रामीण औद्योगिक पार्क की शुरुआत करने का निर्णय लिया है. प्रारंभिक चरण में प्रत्येक ब्लॉक में दो पार्क बनाए जा रहे हैं, आवश्यकतानुरूप इनकी संख्या बढ़ाई जाएगी. इसके लिए शासन द्वारा 600 करोड़ का प्रावधान बजट में किया गया है. जिन गांवों में गौठान नहीं बने हैं, वहां जल्द गौठान बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए जा रहे हैं. हमारी सरकार शिक्षा के सुदृढ़ीकरण, स्वास्थ्य की बेहतरी, रोजगार के नए अवसर उपलब्ध कराने के साथ ही छत्तीसगढ़ की समृद्ध संस्कृति और परम्पराओं को सहेजने तथा संवारने के लिए लगातार कार्य कर रही है.

मुख्यमंत्री बघेल ने क्षेत्रवासियों की मांग पर कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं भी की. जिनमें काशीगढ़ में मिडिल स्कूल भवन का निर्माण, काशीगढ़, दतौद और मलनी में उप स्वास्थ्य केंद्र भवन का निर्माण, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जैजेपुर में ट्रामा सेंटर का निर्माण, जैजेपुर में कृषि गोदाम भवन निर्माण, जैजेपुर में पशु चिकित्सालय भवन और उसका अहाता निर्माण, बेलकर्री में आंगनबाड़ी भवन निर्माण, अकलसरा से केकराघाट तक सीसी रोड निर्माण, पेंड्री तथा कचंदा में पशु औषधालय का निर्माण और भोथिया में मनकादाई मंदिर परिसर में सामुदायिक भवन का निर्माण शामिल है. मुख्यमंत्री बघेल ने ग्रामीणों की मांग पर कांशीगढ़ में उप स्वास्थ्य केंद्र प्रारंभ होने तक प्रत्येक मंगलवार को बाजार के दिन कांशीगढ में हाट बाजार क्लिनिक शुरू करने कलेक्टर को जरूरी व्यवस्थाएं करने के निर्देश भी दिए.

मुख्यमंत्री बघेल ने काशीगढ़ भेंट-मुलाकात में चोरभट्ठी पंचायत के गौठान में अतिक्रमण की शिकायत पर एसडीएम सक्ती को 10 दिन में गौठान से अतिक्रमण हटाने के लिए निर्देशित किया. किसान नंद कुमार नायक ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके पास ढाई एकड़ कृषि जमीन है. शासन की कृषि ऋण माफी योजना के तहत उनका 50 हजार का और उनके पिताजी का ढाई लाख का ऋण माफ हुआ. उन्होंने राजीव गांधी किसान न्याय योजना से मिले पैसों से टीवी, मोटरसाइकिल, पत्नी के लिए हार, बच्ची के लिए कपड़े और साइकिल लिया है. नायक ने मुख्यमंत्री जी को जनहितैषी योजनाओं के लिए प्रसन्नतापूर्वक आभार व्यक्त किया.

संवाद के दौरान काशीगढ़ की बुजुर्ग महिला शकुंतला गोस्वामी ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके पास कोई जमीन नही है जिससे उन्हें शासन की योजनाओं का लाभ भी नहीं मिल पा रहा है. जिस पर मुख्यमंत्री ने हल्का पटवारी को मंच पर बुलाकर योजनाओं के लिए उनकी पात्रता की जांच करने के निर्देश दिए और पात्रतानुसार तत्काल उन्हें योजनाओं से लाभान्वित करने के लिए कहा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here