दुर्ग: बच्चा चोर समझकर साधुओं की पिटाई, 14 गिरफ्तार

0
5

दुर्ग. छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में बच्चा चोर समझकर साधुओं की पिटाई करने के आरोप में पुलिस ने 14 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के भिलाई-तीन थाना क्षेत्र के चरोदा गांव में बुधवार को रावण दहन के मेला स्थल पर साधु वेशधारी तीन लोग घूम रहे थे. इस दौरान वह कुछ बच्चों से बात कर रहे थे और उन्हें प्रसाद दे रहे थे.

इस बीच लोगों को शक हुआ कि ये बच्चा चोर हो सकते हैं. शक के आधार पर लोगों ने उनकी पिटाई कर दी. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस को जब इसकी सूचना मिली तब मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया और उन्हें मुक्त कराया. बाद में तीनों पीड़ितों को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया. उन्होंने बताया कि इलाज के बाद तीनों को छुट्टी दे दी गई. उन्हें मामूली चोटें आई थीं.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पीड़ित राजस्थान के निवासी हैं. हालांकि, उनके पास पहचान के लिए कोई दस्तावेज नहीं था. पूछताछ के बाद उन्हें जाने दिया गया. उन्होंने बताया कि घटना के वीडियो के आधार पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच शुरू की. पुलिस ने अभी तक इस मामले में 14 लोगों को गिरफ्तार किया है तथा कुछ लोगों को समझाकर छोड़ दिया गया है.

दुर्ग जिले के पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने कहा कि पिछले कुछ समय से इस तरह की अफवाह फैल रही है कि छत्तीसगढ़ में बच्चा चोर गिरोह घूम रहा है. इस संबंध में सोशल मीडिया में कुछ पर्चे भी जारी किये जा रहे हैं. लेकिन पल्लव ने कहा कि ऐसा कोई गिरोह राज्य में सक्रिय होने की जानकारी नहीं है. यदि कहीं किसी नागरिक को किसी पर संदेह होता है, तो किसी प्रकार की मारपीट ना करे बल्कि पुलिस को खबर करें, जिसकी जांच तत्काल की जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here