रायपुर: राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की शनिवार से तीन दिवसीय अखिल भारतीय समन्वय बैठक

0
7

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में शनिवार से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की तीन दिवसीय अखिल भारतीय समन्वय बैठक शुरू होगी. इस बैठक में भारतीय जनता पार्टी और विश्व ंिहदू परिषद सहित संघ से प्रेरित 36 संगठनों के प्रमुख पदाधिकारी शामिल होंगे. संघ के एक पदाधिकारी ने इसकी जानकारी दी .

आरएसएस के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर ने शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि वार्षिक समन्वय बैठक में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबोले तथा भाजपा, विहिप, वनवासी कल्याण आश्रम और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) सहित 36 संगठनों के प्रमुख पदाधिकारी शामिल होंगे. आंबेकर कहा कि आरएसएस से जुड़े संगठन समाज की सेवा के लिए विभिन्न क्षेत्रों में काम कर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि बैठक रायपुर के स्वामी विवेकानंद विमानतल के सामने जैनम मानस भवन में होगी. आंबेकर ने बताया कि सामाजिक सरोकार और राष्ट्रवाद के लिए सक्रिय रूप से काम कर रहे यह सभी संगठन पिछले एक साल के अपने अनुभव और किए गए कार्यों को साझा करेंगे. उन्होंने कहा कि वे संबंधित विषयों में काम करते हुए अपनी उपलब्धियों को भी साझा करेंगे. उन्होंने बताया कि बैठक मे इसके साथ ही पर्यावरण, पारिवारिक जागरूकता और सामाजिक समरसता जैसे प्रमुख मुद्दों के समन्वित प्रयासों पर भी चर्चा होगी.

आरएसएस पदाधिकारी ने बताया कि बैठक के दौरान हुई गतिविधियों और विचार-विमर्श के बारे में जानकारी देने के लिए बैठक के अंतिम दिन 12 सितंबर को संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा. यह पूछे जाने पर कि क्या कांग्रेस शासित राज्य में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए बैठक हो रही है, आंबेकर ने कहा कि आरएसएस की बैठकों का कार्यक्रम बहुत पहले से तय होता है और यह विभिन्न स्थानों पर आयोजित किया जाता है.

छत्तीसगढ़ में चुनावों में आरएसएस की भूमिका के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि संघ का काम देश के हर राज्य में बढ़ रहा है और संघ के शताब्दी वर्ष (2025 में) को देखते हुए इसका और विस्तार करने पर ध्यान दिया जा रहा है. भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा शुक्रवार को समन्वय बैठक में हिस्सा लेने यहां पहुंचे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here